फ्लैट नंबर २१३(भाग - २)

Sagar Mehta

फ्लैट नंबर २१३(भाग - २)
(83)
पाठक संख्या − 5931
पढ़िए

सारांश

सनाया..सनाया ...वैभव सनाया के मुँह पे पानी छिड़कते हुए ... सनाया अब धीरे धीरे होश में आ रही थी .. थैंक गॉड तुम्हे होश आ गया में कितना डर गया था मालूम हे तुम्हे.. सनाया का हाथ अपने हाथो में लेते हुए ...
पवनेश मिश्रा
अगले भाग के लिए व्यग्र है 🙏🌹🙏
रिप्लाय
Neha
interesting 👍👍👍👍👍👍
मनीषा सहाय
आगे की प्रतीछा में
Shakuntala sharma
Very nice
रिप्लाय
drxSrishti shukla
next kab la re bhut achi story bhut interested
रिप्लाय
Dani(दानि) Israr(इसरार)
story ka base achchha hai...kuchh vocabulary mistakes hain jinhe sudharne ki zroorat hai...ye main point hota hai story ka k aap likhte hkaise hain...short rating isi wjh se hai
रिप्लाय
Swati Mehrotra
whr is d next part?? dont leave d story incomplete
रिप्लाय
Jatin Kant Singh
Good
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.