प्रेम तराजू

Kavita Nagar

प्रेम तराजू
(37)
पाठक संख्या − 3929
पढ़िए

सारांश

अरुणिमा,जिसे प्यार से सब अरु ही कहते थे।भोलेपन से सराबोर ये लड़की पहली बार में ही सबको भा जाती।शायद ही कोई हो जो उससे नाराज हुआ हो।क्योंकि लड़ना उसके स्वभाव या उसके शब्दकोश में ही नहीं था।अरु जिम्मेदार ...
Ajay
अति सुन्दर कहानी.. सच मे प्रेम केवल इंसान के मन से होता है...
Sandeep Meshram
अतिसुन्दर अच्छा लिखती है आप
Mohit Khare
शानदार
रिप्लाय
Rashmi Nigam
Nice story
रिप्लाय
Sunita Agarwal
Very nice story
रिप्लाय
डॉ. मनीष गुप्ता
achchhi kahani, agar samay mile to meri kahani TEJAB KE CHHEENTE ek bar jarur padhen
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.