प्रेम के बोल | Love talk

Peeraram Bhakhar Jat Dabli ✅

प्रेम के बोल | Love talk
(13)
पाठक संख्या − 476
पढ़िए

सारांश

इसलिये मैं तुम्हारे बैल को बोलने की शक्ति दे रहा हूँ ! इतना सुनते ही हरिराम जाग गया और अपने बैल के पास गया ! - पीराराम भाखर जाट डाबली
PB LDMS DABLI
Nice
रिप्लाय
The Desiwood By Prb Jat
Very nice
रिप्लाय
Ghamda Ram Bhakhar
बहुत सुंदर रचना है आपकी 👌
रिप्लाय
Choudhary Rajasthany
👌 बहुत ही शानदार है... ! 👌
रिप्लाय
राष्ट्र कवि पीबी जाट
Very Nice 👌👌👌👌👌👌
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.