प्रकृति न्याय

Manoj Rana

प्रकृति न्याय
(31)
पाठक संख्या − 2762
पढ़िए

सारांश

नोहरा क्षेत्र का एक राजा हुआ करता था ।एक समय की बात है कि राजा को मंत्री से खबर मिली की साथ वाले राज्य में कुछ तमाशा दिखाने वाले(नटुऐ) आये है । क्यों न उन्हे दरबार बुलाया जाए महाराज आपका भी मनोरंजन ...
Ranjeet Bhiralia
सिर्फ कुछ ही जानते होंगे की यह सही बात है (सच्ची कहानी है)
रिप्लाय
Kartik Awasthi
Achha likhte ho aap
रिप्लाय
Nirmala Choudhary
nice
रिप्लाय
Nalin Kishore Sinha
मार्मिक कहानी,
Annapurna Mishra
होता है ऐसा भी
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.