पिशाच सिद्धि- भाग ३

R.K shrivastava

पिशाच सिद्धि- भाग ३
(14)
पाठक संख्या − 1379
पढ़िए

सारांश

उधर ज्ञानसिंह का खूनी पिशाच सोनपुर में तबाही मचा रहा था और वह भूत-पिशाच सिद्ध करने वाली किताब 'पिशाच सिद्धि' लिख रहा था । ताकि भविष्य में इस किताब से फायदा लिया जा सके । वह पिशाचों की फौज तैयार करने का तमन्नाई था । फिर...
Sudhir Kumar Sharma
अद्भुत
रिप्लाय
अभिषेक जोशी
bahut hi achhi kahani h sir..teeno parts aaj ek sath pade. agale part ka wait rhega
रिप्लाय
sushma gupta
ओहहो, सम्मोहित करती काल्पनिक परंतु रुचिकर कथा, 👌👌👌👌
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.