पर्वतीय क्षेत्रों से युवा वर्ग का पलायन ,कारण और निदान

मंजुल भटनागर

पर्वतीय क्षेत्रों से युवा वर्ग का पलायन ,कारण और निदान
(17)
पाठक संख्या − 960
पढ़िए

सारांश

"मेखलाकर पर्वत अपार अपने सहस्‍त्र दृग-सुमन फाड़, अवलोक रहा है बार-बार दर्पण सा फैला है विशाल". महाकवि पन्त ने पर्वत मालाओं की सुन्दरता को लेखनी बद्ध करते समय शायद ही कभी सोचा हो कि इन पर्वत ...
मनदीप सिंह
उत्कृष्ट लेख
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.