नाम परिवर्तन

डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा

नाम परिवर्तन
(110)
पाठक संख्या − 3254
पढ़िए

सारांश

पति-पत्नी की नोक-झोंक पर आधारित हास्य-व्यंग्य
Vandana Baranwal
🤣🤣🤣🤣🤣🤣
रिप्लाय
दिनेश कुमार दिवाकर
क्या बात है सर जी बहुत दिनों बाद ऐसे हास्य कहानी पड़ा हूं
रिप्लाय
उन्मेष गद्रे
काश न अलार्म बजता... न निंद खुलती... श्रीमतीजी की आगोश में बद्रिनाथ होता!! आपकी कल्पनाएं अभिनव और व कथनशैली लाजवाब!!
रिप्लाय
S.K. Patel
superb.....
रिप्लाय
पल्लवी राय
देखा श्रीमती जी ने भागने नहीं दिया सपने में भी,हक़ीक़त में तो कोई सोचे भी मत😂😂😂
रिप्लाय
R.K shrivastava
हा !हा ! हा ! हा !👌👌👌
रिप्लाय
Naresh Gujjar
शानदार
रिप्लाय
ajay
☺☺☺☺ भाईसाहब, क्यों पत्नियों को भड़का रहे है।ये आपका लिखा पढ़ती हैं, मुस्कुराती हैं,और तुरंत हम पर ही आजमाती हैं।😀😀😀😀😀
रिप्लाय
Vijay Singh
व्यक्ति की अपूर्ण इच्छाओं को पूरा करने में थोड़े समय के लिए ही सही पर सपने बहुत मददगार साबित होते हैं ।मज़ेदार कहानी ।
रिप्लाय
Swarup Acharya
bahut khub..👍👍👌👌🙏🙏
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.