नरेन्दर दास मोदी

कवि रूपेश राठौड़

नरेन्दर दास मोदी
(65)
पाठक संख्या − 664
पढ़िए

सारांश

विडम्बना
Vinni Gharami
👏👏
रिप्लाय
MB mohaniya
NAMO NAMO🙏🙏🙏🙏🙏🙏
रिप्लाय
पूजा
अब की बार इस युद्ध में अभिमन्यु ही विजय पताका फहराएगा...जय भारती🙏🙏🙏🙏
रिप्लाय
Rabindra Narayan Mishra
वहुत बढ़ियां
रिप्लाय
utam rachna sir ji......🙏
रिप्लाय
अनिल भरतीया
नमो नमो
रिप्लाय
Divyansh Singh
👌👌👌👌
रिप्लाय
Amit kumar
good line
रिप्लाय
प्रशांत सिंह (सनी )
वाह वाह...ऊर्जावान रचना
रिप्लाय
Akp Ashok
आपकी कविता बहुत अच्छी है
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.