नदी वाला साया

punit kumar

नदी वाला साया
(91)
पाठक संख्या − 5429
पढ़िए

सारांश

"रवि!!रवि!! रवि बेटा कहाँ हो तुम??" मालती अपने 12 वर्षीय बेटे 'रवि' को ढूढ़ रही थी, न जाने रवि कहाँ गायब था और ऊपर से गर्मियों का मौसम, कड़ी दोपहर। पूरे घर मे छानने के बाद थकी हारी मालती ने दीनू को ...
Vivek Sharma
madarchod ho bhosdi k tum...puri khani likha kro
Riya mittal
very nice 👌👌 story pd kr bht acha lagaa
Shalu Agrawal
kahani interesting h lekin 1st part bahut chhota h.
Deep Koursidhu
aage ka part ni likoge vese bdiya h story
Pragya Bajpai
बहुत बढ़िया।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.