नई कोंपले...

Hema Ingle

नई कोंपले...
(3)
पाठक संख्या − 200
पढ़िए

सारांश

समंदर किनारे उमडे निश्चल प्यार की दास्ता...
डॉ. ए सतीश
बढ़िया कोशिश
रिप्लाय
आकाश इफेक्ट
प्रयास उत्तम रहा। कथानक साधारण परंतु सधा हुआ होने के बाद भी अपनी छाप नही छोड़ पाया। शायद अंत में कुछ 'विशेष' होना चाहिए था। जिस तरह समुद्र रीना की छवि को बहाकर ले जाता है वैसे ही रीना भी मात्र एक मन का वहम होती जो सिर्फ और सिर्फ राज के खयालों में होती और सिर्फ उसे ही दिखती तो शायद बेहतर होता। खैर ये मेरे निजी विचार हैं। रचना आपकी है और वैचारिक स्वतंत्रता भी आपकी। आप अपनी कहानी को बेहतर तरीके से अंजाम तक पहुंचा सकती हैं। बस मात्रिक त्रुटियों पर ध्यान देने की आवश्यकता अधिक है।
रिप्लाय
बृजभूषण खरे
बहुत ही अच्छी रचना. शानदार भाषा शैली.
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.