धुंधली रात

निजा

धुंधली रात
(90)
पाठक संख्या − 13192
पढ़िए
Abhishek Chaurey
कोई ओर छोर नही है न कोई कथानक न प्रवाह न रहस्य न रोमांच
लेखा चौधरी
कहना क्या चाहते हो ?😂😂
Om Mishra
अंत बेहतर हो सकता था..
Swarnima
story samajh nhi ayi ...sayd suspense ke chakkar me kuch jyada ho gya
klpna
Kya h bkwas😠
Namita Arora
ye tha kya......sucide......friends ke saath dhokha.......masti......nashaa..... not able to understand the story....
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.