दो दिलों को पूरा करे..वही तो इश्क़ है..(चैप्टर 2)..

सिमरन जयेश्वरी

दो दिलों को पूरा करे..वही तो इश्क़ है..(चैप्टर 2)..
(92)
पाठक संख्या − 7708
पढ़िए

सारांश

अगर आप इस भाग को पहली दफा पढ़ रहे है तो मैं बस यही कहूंगी की कृपया मेरी प्रोफाइल पर जाकर इसके पिछले भाग अवश्य पढ़ें। . . . . . शिखर बस श्रेया की कार को जाते हुए देख रहा था। तभी उसके साथी कैंडिडेट्स ...
Astha Jain
आप सच में एक professional writer की तरह लिखती हैं।
रिप्लाय
Divyansh Singh
बहुत खूब
रिप्लाय
sunny
badhiya
रिप्लाय
chitra
gr8 story
रिप्लाय
Saira Parvez
very nice
रिप्लाय
Radheyshyam Jakhar
nice
रिप्लाय
Biren S VarMa
filhal pasand aa rahi hai...☺️
रिप्लाय
Priyanka Sable
😍😍😍👌👌👌👌
रिप्लाय
Sanjeev Kumar
waiting fr3
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.