दो कौड़ी की पतंग (baal kahani

पवित्रा अग्रवाल

दो कौड़ी की पतंग (baal kahani
(46)
पाठक संख्या − 4725
पढ़िए

सारांश

शशांक ने अपने मित्र रवि से पूछा--"रवि कल से स्कूल बंद हैं इन छुट्टियों में क्या करेगा ?'' "करना क्या है दोस्त दिन में पढ़ाई करूँगा ,कुछ समय कंप्यूटर पर बैठूंगा और शाम को छत पर जाकर पतंग उड़ाऊँगा ।'' ...
Prabhat Dwivedi
बहुत बढ़िया कहानी
रिप्लाय
nirmalajoshi
बहुत अच्छी कहानी ।
Utkarsh Mishra
बढ़िया.. 👌
Sunita Agarwal
Bahut sahi baat likhi hai very true
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.