दोनों के बीच

सुनील आकाश

दोनों के बीच
(75)
पाठक संख्या − 6126
पढ़िए

सारांश

कई मुंहलगे दोस्त ही अपने दोस्तों के घर आते-जाते, उनके दाम्पत्य जीवन में जहर घोलने का काम करने लगते हैं। मगर समझदारी से ऐसे पति-पत्नी को ऐसे दोस्तों की चाल से बच जाना चाहिए। एक रोचक और भावपूर्ण कहानी।
Rekha Rani
such a great story
रिप्लाय
Poonam Tiwari
Nice vhut acchi story pati patni ke prem ki kahani jo kitni bhi duri aa jaye pr apna astiav baca hi leta h aur ant me dono aik ho jate h
रिप्लाय
Anuradha Bhati
सत्य जैसे चरित्र वाले पति होते है क्या.. कहानी बहुत ही प्यारी.....
रिप्लाय
Nirmala Chaudhary
👌👌
रिप्लाय
aleem man
sahi hai
रिप्लाय
Diksha Dubey
NYC story
रिप्लाय
Ajit
Achhi hai
रिप्लाय
Rupali Shah
nyc story
रिप्लाय
Janvi Singh
very nice
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.