तोहफा प्रकृति का

शिखा श्रीवास्तव

तोहफा प्रकृति का
(7)
पाठक संख्या − 97
पढ़िए

सारांश

अपने विकलांग बच्चे को हीनभावना से बचाकर उसे उम्मीदों और समानता भरी जिंदगी देने की कोशिश करते माता-पिता के हिम्मत और जज्बातों की कहानी
Beena Awasthi
Good
रिप्लाय
रमेश पाली
bahut khoob
रिप्लाय
Mamta Upadhyay
खूबसूरत स्टोरी प्रेरणादायक
रिप्लाय
Arun Kumar Manglam
सच ही है कि कमी हमारी सोच में ही होती है, अनेकों उदाहरण हमे मिल जाएंगे जिसमें समर्थ व्यक्ति से ज्यादा बेहतर असमर्थ व्यक्ति ने कार्य किया है, बस जज्बा होना चाहिए।
रिप्लाय
Jiwan Sameer
सुंदर
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.