तेरा यार हूँ मैं....!!!

खुशबू जैन

तेरा यार हूँ मैं....!!!
(704)
पाठक संख्या − 69987
पढ़िए

सारांश

कईं बार जिंदगी में ऐसे लोग मिलते है जिनकी तरफ एक अजीब सा खिंचाव होता है- वो हमे मिले या न मिले ये अलग बात है.. किसी की मुस्कान दीवाना कर देती है, किसी की खुशमिजाजी देख उनकी किस्मत से रश्क होता है जिंदगी की दौड़ में वो मिले न मिले ये भी अलग बात है पर जब वो फिर से टकराते है तो पुराने लम्हों की तस्वीर सी बन जाती है हमे लगता है कि हम उन्हें कितना जानते है पर क्या हम उन्हें सच में जानते थे?
Vijayshankar Gupta
बहुत सुन्दर।
Nisha Joshi
heart touching story
Nitin Singh Bhandari
wow mja aa gya superb story khi na khi insaniyat jinda he abhi bhi
Namita Jaiswal
बहुत ही अच्छी कहानी
Nisha Devi
Bahut achhi कहानी
Madhu Bagai
achchhi kahani. apne liye jeeye to kya leeye, toon jee ei dil zamaane k liye
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.