तू कहाँ है!

Sjl Patel

तू कहाँ है!
पाठक संख्या − 21
पढ़िए

सारांश

ये सुबह,दोपहर,शाम,रात सब कुछ है, तू बता इधर, किधर,उधर कहाँ है! हम तो कब से हैं यहां, हमको क्या खबर तू कहाँ है । patel ...
रचना पर कोई टिप्पणी नहीं है
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.