तुम देना साथ मेरा( भाग 5)

Aakash Deep

तुम देना साथ मेरा( भाग 5)
(25)
पाठक संख्या − 301
पढ़िए

सारांश

वर्तमान समय- नई दिल्ली वरुण ने अमृता को अपनी बाइक पर बिठाया और सबसे पहले अग्रसेन की बावली ले गया। वहां कुछ देर रुकने के बाद दोनों गुरुद्वारा बंगला साहिब गए। उन्होंने दर्शन किये और फिर लंगर खाने के ...
Richa Singh
अच्छी कहानी।
Sohan Dabiyal
वाह बहुत ही अच्छी जा रही है
Swati Kumari
👏👏👏👏👏👏👏👏
Vinay Anand
उम्दा भाव, सुंदर लेखन
Nisha Sori
bahut hi badiya story ,✍👌
dinesh kadam
nice part.. waiting next part
Deepa Bisht
अभी तक तो कहानी बहुत अच्छी है।
Rajni Gupta
mysterious behave hai Amrita ka
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.