तुम थे तो ...

ज्योत्सना कपिल

तुम थे तो ...
(194)
पाठक संख्या − 12719
पढ़िए

सारांश

एक जुनून की हद तक हुए प्रेम की कहानी
Manisha Giri
heart touching story 👌👌👌👌👌👌
अरविन्द सिन्हा
बहुत ही सुन्दर कहानी । वर्तमान को स्वीकार करने में ही शान्ति है , कल्पनाओं में नहीं ।
Vinod Jain
बहुत अच्छी प्रस्तुति,
Mohit Khare
लाजवाब रचना। कल्पना और वास्तविकता का अनूठा मिश्रण।
Deepika Vaishanv
behd hi marmik khani h ..me khud bi asi hi pagal hu ...
Archana Rawat
दिल को छू लेने वाली कहानी.... बहुत बेहतरीन
Manu Prabhakar
दीवानगी की हद पार मोहब्बत ने दिल को झकझोर दिया। पर एक बात कहें मैडम आजकल ये शिद्दत सिर्फ़ काल्पनिकता में ही रह गया है,वास्तविकता में दिखता कुछ है होता कुछ है।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.