जल्द ही मिलेंगे

Gaurav Kumar 'वशिष्ठ'

जल्द ही मिलेंगे
(143)
पाठक संख्या − 13430
पढ़िए

सारांश

मेरे बहुत सारे पाठकगण के मन में बहुत सारे सवाल हैं जैसे वो लड़की कौन थी? इस कहानी का क्या अगला भाग भी आएगा? आगे क्या हुआ? इत्यादि। मैं अपने पाठक को यह बताना चाहूंगा कि जो मैंने सुना वो मैनें लिख दिया, अपने तरफ से मैनें इसमें कोई काल्पनिकता नहीं डाला है। मेरे मन में भी यही सवाल थे पर अब वो ताई इस दुनिया मे नहीं हैं इसलिए वो सवाल अनसुलझे ही रह गए।
Deepika Bhardwaj
बहुत बढिया
रिप्लाय
Jaya chaudhary
nice story😍
रिप्लाय
Gajender Kumar
bhut saalo baad haarr story padhi h .achi lagi isper to horer serial bhi bn skta h
Ravinder Kumar
Gazab
रिप्लाय
Naveen jain
stupid story.बे सिर पैर की लफ्फाजी है।
रिप्लाय
Upasna Jain
bahut Romaanchak hai aapki kahaani. kaash ant bhi likh dete aap
रिप्लाय
komal
mtlb ye sachi story h
रिप्लाय
Sandeep Tiwari
sandaar
रिप्लाय
Amit Mishra
बहुत ही जबरदस्त और रोमांचक,,,काश कोई लेखक इसमे अपनी कल्पना जोड़कर इसका बढ़िया अंत भी लिख दे
रिप्लाय
Santosh Nayak
रहस्य अनसुलझे ही रह गए। कहानी की रचना शैली बहुत ही रोचक है। कहानी पसंद आई।
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.