छुपी हुई पहचानें

Nidhi Vyas

छुपी हुई पहचानें
(552)
पाठक संख्या − 41496
पढ़िए

सारांश

ये कहानी 3 पक्के दोस्तों की है, देव, नलिनी और शेखर। तीनों कॉलेज के मित्र हैं। देव कॉलेज की एक लड़की से प्यार करता है जिसे किसी ने नही देखा। वो नज़्म है। देव नज़्म को उसकी लिखी कविताओं से चाहता है। नलिनी एक ऐसे लड़के से प्यार करने लगती है जो कॉलेज के बाद गरीब बच्चों को पढ़ता है। जब नलिनी उसे देखती है तो उसे विश्वास ही नही होता। क्या देव को अपना प्यार मिल पायेगा? क्या होगा जब नलिनी अपने प्यार को देखेगी? और शेखर?? क्या वो अपने दोस्तों को उनके प्यार से मिलाने में मदद कर पायेगा??
pranshi shukla
heart touching ♥️
रिप्लाय
A Yadav
Agla bhag kab ayega
रिप्लाय
Bhavana Sharma
really mere pass words nhi h.....apki tareef krne k lye......amazing ma'am.........ek bar story padna start kiya fir khud ko rok hi nhi payi....bahut hi achhi story likhi apne.......☺☺☺☺🌺🌺🌺🌺🤩🤩🤩🤩🤩🤩🤩💖💖💖🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷
रिप्लाय
aakash ahuja
ab Tak ke best story
रिप्लाय
Ruchi Istwal
bahut sundar kahani... maine toh kal hi ise padha hai.. subah ke 3 bje tk
रिप्लाय
Usha Saini
Best story i've ever read....Best wishes Mam...☺️
रिप्लाय
Manu Prabhakar
दिल को छू गई आपकी रचना मैम। ऐसा लगा कि काश कहानी और बड़ी होती। बेहतरीन रचना ।👌👌🙏🙏
रिप्लाय
Jassi Kaler
Very heart touching
रिप्लाय
vaishali
awesome story
रिप्लाय
Neha Jain
Very very nice story Heart touching 👌♥️
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.