छलावा

अरुण गौड़

छलावा
(326)
पाठक संख्या − 12293
पढ़िए

सारांश

राजू ने उसके बारे मे बात शुरू की थी वो बताने लगा की छलावा नाक मे बात करता है, उसके पैर पीछे की तरफ मुड़े हुए होते हैं, उसकी परछाई नही दिखती वो बहुत तेजी से पीछे भागता है और किसी का भी रूप बदल लेता है, और अगर...........
sapna
ntkht bchpn
रिप्लाय
Blogger Akanksha SAXENA
बेहद शानदार
रिप्लाय
Hemlata Pal
😂😂😂😂😂😂😂
रिप्लाय
Ruby Singh
muje to aapki khani bhuat psnd aaye sath m hashi bhi aaye well-done bhuat aacha likha aapne
रिप्लाय
Kanchan Singh
bachpan bachpan hi hota hai
रिप्लाय
Pooja Dixit
बहुत सुंदर बचपन की यादें ताजा हो गई।ऐसा ही मिलता जुलता किस्सा कुछ मेरे साथ भी हो चुका है बचपन में।
रिप्लाय
वाहिद खान
good
रिप्लाय
Babita
Mast
रिप्लाय
poonam
bhot majedaar kahani thi
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.