चीख-1

वर्षा

चीख-1
(210)
पाठक संख्या − 22241
पढ़िए

सारांश

क्या आपको भी कभी किसी लड़की का कोई गुमा हुआ पर्स मिला है? क्या आप भी उसे वापस करने की सोच रहे हैं!!!
एकांत
चलिये बात करते है पहले भाग की समीक्षा। पहले इस भाग की अच्छी बाते:- लेखनी अच्छी है और भाषा सरल है। रहस्य और सस्पेंस बढ़िया है। इस भाग के नेगेटीव पॉइंट:- कहानी का हॉरर मुझे कमज़ोर लगा। जैसे की एक दृश्य था जहा मयंक को खून भरा कप और उसमे 2 मानव आँखे नज़र आती है। ऐसी चीज़े हज़ारो बार उपयोग हो चुकी है और अब यह बिल्कुल भी डरावना नही लगता है। लेखक के लिए सुझाव:- ब्लड और gore के साथ आप मनोवैज्ञानिक भय का भी उपयोग कर सकती है। जैसे क्लॉस्टोफोबिया। यह भय होता है बंद जगहों का। कई लोगों को बंद जगहों से घुटन सी होती है। मुझे भी कुछ हद तक क्लॉस्टोफोबिया है। यदि आप लिफ्ट वाले दृश्य मे मे पाठको को बंद लिफ्ट की घुटन का एहसास दिला पाए बढ़िया। युही लिखती रहिए, माता सरस्वती आपपर अपना आशीर्वाद रखे।
Ajay
versha mem saari kahahi maine padh Li hai nia19 ka intezar hai
Anjali Pramanik
Varsha jii ab or intejar nahi hota jaldi se niya post kijijye
Nayara Gurjar
ये तो पढ़ ली निया कब आएगी जी। हर रोज का इंतजार हो रहा है निया का
Khan Farhan
2 baar pehle bhi padh chuka hu
रिप्लाय
Niharika Goswami
bahut sunder rachna 😊😊😊😊
Aarvi Singh
hi mam nia ka next part kub upload hoga
रिप्लाय
naresh gocher
वर्षा जी हमे सिर्फ निया का ही वैट है आपकी सारी कहानिया मैडम में पड़ चुका हूं ये स्टोरी भी शानदार है मैडम but निया19 का फुल रोमांच बाकी है
रिप्लाय
Sadhana Sharma Renu
क्या मैम आप भी न झटका देते हो।सुबह से दस बार चेक करने के बाद नोटिफिकेशन दिखा तो लगा निया होगी बट ये तो प हले ही दस बार पढ़ चुकी हूं।उस स मय समीक्षा नहीं कि थी😂 सॉरी फॉर दैट।मैंने आपकी सारी कहानियां पढ़ी है।सिर्फ एक नहीं पड़ी थी😜।शैतान से समझौता।वो भी इस निया ने पढवा दी। अब प्रॉब्लम ये है कि आपकी कहानी पड़ने के बाद कोई और अच्छी ही नहीं लगती वरना तो दिन भर कोई ना कोई पड़ती रहती थी ।अब हालात ये है की किसी कहानी में मन ही नहीं लगता।खैर आपकी निया का इंतजार रहेगा।आपकी कहानी के इंतजार मे आपकी फैन ।
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.