चाय की प्याली

स्वप्ना काद्यान

चाय की प्याली
(51)
पाठक संख्या − 3792
पढ़िए

सारांश

पिछले माह शादी को २५ साल हो गए है| वक़्त कैसे गुज़र जाता है ,पता ही नहीं लगता | इस घर में बहू बन कर आना ,ये घर संभालना ,बच्चोंं के पहले जन्मदिन से लेकर उनके कॉलेज जाने तक का सफर , सब देखा है इस घर ने | ...
ईशा अग्रवाल
बहुत अच्छी कहानी है
Sonu Kushwah
Bhut badiya very good eyes m ansu aa gye
mukesh nagar
मीठी सी कहानी ...वाह!!👌👌
Pawan Kumar
it's good and soothing
Sanjay Kumar
खूबसूरत! जीवन की खुशहाली, एक चाय की प्याली ।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.