चम्पा का मोबाइल

दीपक शर्मा

चम्पा का मोबाइल
(114)
पाठक संख्या − 6393
पढ़िए

सारांश

“एवज़ी ले आयी हूँ, आंटी जी,” चम्पा को हमारे घर पर हमारी काम वाली, कमला, लायी थी| गर्भावस्था के अपने उस चरण पर कमला के लिए झाड़ू-पोंछा सम्भालना मुश्किल हो रहा था| चम्पा का चेहरा मेक-अप से एकदम खाली था ...
Meena Sundriyal
wah,kya khoob Likha hai
Aruna Garg
ma kya hoti he iska mahatva batati kahani.self respect ki seekh bhi he .faltu me Kisi Ka ehsan nahi Len.
Vandana Awasthy
हृदय स्पर्शी और मार्मिक कहानी....
Kamlesh Patni
मां क्या होती है एक स्पर्श एक भावना का एहसास यह उनसे पूछ कर दे खो जिनकी मां नहीं है।
Kalpana Srivastava
मन को छू लेने वाली रचना अति उत्तम
Dhirendra Singh Gaharwar
ह्रदय स्पर्शी कहानी है ये। भावनाओं की सुद्रढ़ अभिव्यक्ति। निरंतरता निर्बाध।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.