गलती क्या थी मेरी

Vikashree Kemwal

गलती क्या थी मेरी
(420)
पाठक संख्या − 27576
पढ़िए

सारांश

एक अधूरी प्रेम कहानी ....
Ravindra Pal
ye kahani mujhe apani si lagi wo chhup chhup kar dekhana wait karana Or jab dono ko mohabbat ho gayi fir ek ka shat chhod kar chale jana ha mujhe bhi us se mil kar puchana hai ki meri galti kya thi
रिप्लाय
Ratnakar Singh
ये घटना या कहानी,जिंदगी के इस मोड़ पर, जब आंखों में चमक और विपरीत लिंग के बीच अतीव आकर्षण उतपन्न हो जाता है, बड़ा ही प्राकृतिक होता है, एक दूसरे के लिए क्या कर दूं, एक दूसरे के ख्याल हो आते है, पर यह मात्र उम्र का तेज प्रवाह होता है, जैसे जब सरिता पहाड़ छोड़कर मैदान पकड़ती है तो धारा बड़ी तीव्र होती है, पर मैदान पकड़ने के बाद स्थिर हो जाती है। पर प्यार अधूरा ही रहता है,पहला शब्द ही अधूरा है। जीवन की कठोर सच्चाई, का आभाष ही नही रहता। अच्छा है कि ये सच्चाई का आभाष न हो अन्यथा वो प्यार की तड़प का जीवन मे एहसास ही नही होगा।
रिप्लाय
तारा चन्द गुर्जर
कहानी अच्छी है, पर अंत मे आप प्रश्न करेंगे, और जवाब भी नही देंगे, उम्मीद करता हु इसका अगला पार्ट बनाये बाहुबली2 की तरह, तब हम रेटिंग बढ देंगे. दूसरा पार्ट बढ़िया है, पसन्द आया। दोनो पार्ट पर 3 4 स्टार दिए है, ये दोनो पार्ट एक ही साथ रखते तो हम केवल 5 स्टार आपको दे देते। बेवजह कहानियो के पार्ट नही बनाये, कहानी का मूल तत्व खो जाता है। अब कई लोगो को तो ये ही नही समझ आया ह कि यह कहानी दो भागों में ह।
रिप्लाय
Madhu Pawar
Kya hai y koi kahani hai bakwas
Abhishek Kumar
क्या दिक्कत क्या थी मन्नु को?
kittu kia
glti blind trust easily hr bt ko mnna simple nature bs... jo log aise hote h unke sth yhi hota h. ..mera b ek swal akhir glti ky ti meri.. 😐
Dr Sk Saxena
kahani kam.sachayee jyda lag rhi hai jese kisi ki aap beeti ho.
Devendra Rawat
क्या बात है शानदार।। ओर देहरादून।। क्या बताये यारो किस कदर जुनूँ था हमे कभी इस सहर का इन लम्हो का इन यादों का का इन विचारों का यकीनन आपने इन लम्हो को जिया होगा।। हमारी यादों को फ़िर से जगा गये आप ये शहर ही प्रेम बस्ती है
Rooh_ Lost_Soul
बहुत प्यारी भावनात्मक कहानी है 😊
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.