गर्ल्स हॉस्टल

विरासनी सिंह

गर्ल्स हॉस्टल
(155)
पाठक संख्या − 11212
पढ़िए

सारांश

कुछ सालों पहले तक गर्ल्स हॉस्टल में रहना लड़कियों के लिए पहले एक हौआ सा होता था, बड़े लोगो के ख्यालात कि वहाँ रहने वाली लडकिया अच्छी नहीं होती हैं ,और गर्ल्स हॉस्टल अगर कॉलेज कैम्पस में हुआ तो सीनियर ...
Rohita Sood
old memories recalled
Nambrita Shriwastwa
purani yadai taza ho gayi
Jay Singh
have you read in navodaya
Awantika Srivastava
Apni hostal life yad a gi.......... Missing those days.....
Vasudha Manoj Gupta
sweet memories yaad aa gayi...👍
Ravi Rawat
Bahut maza aaya yeh kahani padhkar
Sarfraj Ansari
एक हॉस्टल का जीवंत स्मरण।।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.