गर्ल्स हॉस्टल

विरासनी सिंह

गर्ल्स हॉस्टल
(164)
पाठक संख्या − 11939
पढ़िए

सारांश

कुछ सालों पहले तक गर्ल्स हॉस्टल में रहना लड़कियों के लिए पहले एक हौआ सा होता था, बड़े लोगो के ख्यालात कि वहाँ रहने वाली लडकिया अच्छी नहीं होती हैं ,और गर्ल्स हॉस्टल अगर कॉलेज कैम्पस में हुआ तो सीनियर ...
sonisonam sharma
bahut khrab lga ye kahani kaha h
Nidhi Anibha
vry nice... exactly yhi sab hota h hostel life me ..I'm missing my hostel days.. those days were really amazing.👌👌👍
Rohita Sood
old memories recalled
Nambrita Shriwastwa
purani yadai taza ho gayi
Jay Singh
have you read in navodaya
Awantika Srivastava
Apni hostal life yad a gi.......... Missing those days.....
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.