खामोशी

Amit Verma

खामोशी
(19)
पाठक संख्या − 58
पढ़िए

सारांश

धन्यवाद
Saroj Singh
बहुत खूब 👌👌
sushma gupta
बहुत खूबसूरत 👌👌💐💐💐💐
Tanuja
सुंदर। बधाई। दिल देगा इजाज़त पर आपने कभी कोशिश की ही नहीं।
Sudhir Kumar Sharma
वाह वाह. मेरी रचनाओं को भी सार्थक करें
अनुपमा झुनझुनवाला
वाह....पहली ही रचना में बेहद शानदार प्रस्तुति👏👏👏👏👏लिखते रहिये।
Samta Parmeshwar
उम्दा अभिव्यक्ति।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.