क्या वो प्यार था .......

उपासना सियाग

क्या वो प्यार था .......
(527)
पाठक संख्या − 39975
पढ़िए
Rupa Garg
nice story...kuch chije chah kr bhi nhi kr skte this is life
Kumud Singh
माना कि वो ही पहल की पर वो तो अपनी पत्नी को जनता था तो पहले ही मना कर देता पर मर्द ऐसे ही होते हैं
रिप्लाय
Vaishnavi Rajput
ऐसा क्यू होता है कि कुछ लोग जिंदगी में आगे बढ़ जाते है और किसी से पुरानी यादें भुलाई नही जाती। अतृप्त आत्मा की तरह मन भी अतृप्त ही रहता है। जिनकी याददाश्त अच्छी होती है वो सबसे ज्यादा दुखी रहते है ना वो बचपन भुलाया जाता न वो प्यार। सच्चे प्यार की कभी कदर नही होती
रिप्लाय
Mohit Saini
बहुत ही उम्दा कृति 👌👌👌👌👌👌
jyanti sherawat
anjan mhobbt ko acche se likha
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.