क्या तुम्हें याद है

रश्मि तरीका

क्या तुम्हें याद है
(23)
पाठक संख्या − 1340
पढ़िए

सारांश

क्या तुम्हें याद है उस दिन की वो हसीं शाम .....! जब तेरे साथ चंद पलों को जिया था जब लहरों की अठ्केलिओं को एक दूजे के मन से निहारा था जब तेरे कंधे पर सर रख कर डूबते सूरज को देखा था ..... डूबते सूरज ...
Vijay Kumar Soni
वाह। बहुत ही शानदार।
RIYA SK
बहुत खुब👌👌👌दिल को छु जाने वाली रचना...
Sanjay Digwal
बहुत अच्छी लगी आप की रचना
Kumar Gupta
अंतिम के दो लाईन ,उमदा ।
Jiwan Sameer
मर्मस्पर्शी रचना मन को छू गई
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.