कैसा ये प्यार

संज्ञा श्रीवास्तव

कैसा ये प्यार
(212)
पाठक संख्या − 16046
पढ़िए

सारांश

प्यार- एक शब्द नहीं एक एहसास है जिसे बयां नहीं, सिर्फ महसूस किया जा सकता है.. ज़िन्दगी में सबको एक न एक बार प्यार जरूर होता है..और किस्मत वाले होते हैं वो लोग जिन्हें अपना प्यार ज़िन्दगी भर के लिए हासिल हो जाता है.प्यार का मिलना न मिलना किस्मत की बात है, पर कई बार ऐसा भी होता है हम अपनी गलतियों से ही खो देते हैं अपने प्यार को.इसलिए सच्चे प्यार की हमेशा कदर करनी चाहिए क्योंकि किस्मत से ही सच्चा प्यार नसीब होता है..
Sonal Sangtani
nice
रिप्लाय
Sidharth Singh
nice
रिप्लाय
कुणाल ठाकुर
sangya ji aap ki kahani padhi, bahut sunder rachna
रिप्लाय
nidhi jadaun
Mere nseeb m to h hi nahi koi jo is kadr smjhe mujhe
रिप्लाय
Davinder Kumar
आप की कहानी बेहद वास्तविक लगती है
रिप्लाय
Babbi Baghel
Muze apki kahani bahut acho lgi
रिप्लाय
Dev Garg
acchi h
रिप्लाय
Akshay Rathi
wow
रिप्लाय
Asmi Srivastava
lovely story
रिप्लाय
संदीप प्रजापति
आपका सारांश बहुत अच्छा लगा!!! अच्छी कहानी लिखी अपने!!!!
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.