केतकी

Dubey Mrinalika

केतकी
(347)
पाठक संख्या − 56358
पढ़िए

सारांश

50 वर्षीय केतकी अपनी जिंदगी और अपने से बेजार हो चली थीं।फिर इस वेलेंटाइन क्या हुआ जो उन्हें ...
Neelam Sharma
Nice
रिप्लाय
Shouna Rathore
Very Nice And Motivated Story
रिप्लाय
Pravasini Satapathy
बहुत सुंदर कहानी है जब बच्चे अपने दुनिया में रहते हैं माँ बाप उदासी मे रहते हैं माँ बाप को भी अपने आप में खुशी से जीना चाहिए. कहाना आसान हो. करना मुश्किल है
रिप्लाय
Rajni Gupta
😍😍
रिप्लाय
Aruna Rani
nice story
रिप्लाय
Kavita Jain
Lovely
रिप्लाय
Shobha Narula
very nice story
रिप्लाय
Meena Kapoor
Hamko bhe jine ka adhikar hei
रिप्लाय
Suman Shah
बहुत खूब भाई ।प्यार तो प्यार है,उम्र चाहे कोई भी हो ।मजा आया यारों ।प्यार जताने का ढलती उम्र का तरीक़ा भी खूब ।
रिप्लाय
Neelu Nagpal
Bahut sunder
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.