कुशल जुआरी

अज्ञात

कुशल जुआरी
(68)
पाठक संख्या − 22803
पढ़िए

सारांश

एक रईस नौजवान जुआरी एक बार रात काटने के लिए एक सराय में रुका। उस सराय में भी कुछ लोग जुआ खेल रहे थे। नौजवान भी उन लोगों के साथ जुआ खेलने लगा। जुआ खेलते हुए उसने देखा कि एक जुआरी बड़ी सफाई से खेल की ...
Bhupenddra Singh
Its a moral message in this short story......!
गीतांजलि
कथा है यह शिक्षप्रदम गुणकारी औषधि ,- सी.
Hanif Sati
Achhi thi par .....
div kheodia
नवयुवक एक बुद्धि मान व्यक्ति था उसने सबक सीखा दिया और जान बी बचा ली सामने वाले की
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.