कुत्ता जन्म

गौतम सागर

कुत्ता जन्म
(4)
पाठक संख्या − 92
पढ़िए

सारांश

इस लघुकथा में मनुष्य की चारित्रिक दोष उजागर होते हैं.
Sapna Sharma
bahut khub sach m insan.... plz kash meri aankhe fut jati par samiksha aur reating de thanks
Rahila Asif
रचना की शुरुआत जितनी शानदार ढंग से की बाद में पूरी रचना बिखर गई। लास्ट में ही तो लघुकथा सर्वाधिक चोट करती है ...!बेहतरीन कथानक को यूं ही हाथ से ना जाने दें। रचना समय चाहती है।
amit
manav ka asli chehra dikathi kahani
jitesh tiwari
bahut acchi baat👌👌👌💐💐💐satyata ko prakat krti kahani
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.