कसम

Vandana Singh

कसम
(242)
पाठक संख्या − 13864
पढ़िए

सारांश

सुहाग सेज पर बैठी सिया अपने पति धीरज का इंतज़ार कर रही है , उसके दिल की धड़कन तेज़ है तभी धीरज कमरे में आता है और उसे एक गुलाब का फूल देकर कहता है “हैप्पी वैलेण्टाइन डे” इस फूल की तरह हमेशा ...
Ankita Sharma
bahut pyaari kahaani
रिप्लाय
Archana Kumari
bahut hi achhi kahani padh ke man Khush ho gaya
रिप्लाय
Brajesh Chourasia
nice stori.....
रिप्लाय
Smriti Tiwari
khub
रिप्लाय
Poonam Kundra
Sundar..
रिप्लाय
Mnu Vrk
short ...bt ati sunder👌👌
रिप्लाय
Dharmendra singh
ये प्रस्तुति कहानी के रूप में आती ही नहीं है ।कथानक कुछ है ही नही ।निराशा हुई ।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.