कलेक्टर बिटिया #ओवुमनिया

Kamlesh Ahuja

कलेक्टर बिटिया #ओवुमनिया
(34)
पाठक संख्या − 1369
पढ़िए

सारांश

सुनीता पढ़ने लिखने में बहुत तेज़ थी और कलेक्टर बनना चाहती थी,किन्तु उसके पिता को शराब पीने की बुरी लत थी.खुद तो कुछ काम धाम नहीं करता था,उसपर उसकी माँ सिलाई का काम करके जो चार पैसे इक्कट्ठा करती वो ...
Lakhan Choudhary
very nice story hai
रिप्लाय
Manu Prabhakar
बहुत-बहुत अच्छी रचना है ।
रिप्लाय
Vikas Yadav
Sunder ati sunder Kahani hai
रिप्लाय
Neha Sharma
शिक्षाप्रद कहानी। शुभकामनायें।
रिप्लाय
Shiv Yadav Shiv Yadav
this story related to my life
Preeti
the true story of this time.
रिप्लाय
Pankaj Kumar
incredible
रिप्लाय
Uma Garg
nyc
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.