कन्फ्यूज किस्सा

Sonika Shukla

कन्फ्यूज किस्सा
(44)
पाठक संख्या − 1251
पढ़िए

सारांश

......
आशुतोष कुमार
अभी और अध्ययन करें फिर लिखे।🍺
Padmini saini
एक फोटो मुझे भी भेजो मैं देख कर बताती हुँ,,,,😉😁😂
मीरा परिहार
बात दरअसल ये थी कि वह एक आम लड़की समझ कर आपसे एक साल उलझा रहा,शक्ल देखते ही इसलिए भाग खड़ा हुआ कि वह आपके लायक ही नहीं था।डर गया बेचारा ,आवारा
Rajan Mishra
बहुत सुंदर लिखा है आपने हमभी कन्फूज है क्या लिखें
Krishna Khandelwal singla
यही सोच है आज कल के लोगों की
aparna
आप तो बहुत खूबसूरत हो बहना,,,पक्का उस बन्दे को काफी मोटा चश्मा लगा होगा,,नज़र का नही नजरिये का,गलत सोच का।।।
AKASSH YADAV
हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा ....या तो उसकी आंखें नही होंगी,,या फिर उसकी आंखें नई होंगी
Pranjal Sharma
hahahahaha
रिप्लाय
सोना
ऐसा ही होता है, 👌👌
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.