कतार से कटा घर

अनिल प्रभा कुमार

कतार से कटा घर
(34)
पाठक संख्या − 10459
पढ़िए

सारांश

स्कूल की बस सड़क के किनारे रुकी तो हम तीनो बस्ते सम्भाल कर खड़े हो गए । बस ड्राइवर ने बटन दबाया और एक तीन फ़ुट की लम्बी–सी लाल पट्टी खिंच कर बाहर निकल आई जैसे किसी ट्रैफ़िक-पुलिस वाले की बांह हो। उसके ...
SiYa Sihag
बहुत अच्छी कहानी, इतना सब सहन करने के बाद बहुत कम लोग हिम्मत कर पाते हैं। और अपने देश में तो सोचना भी पाप है,चाहे कानून बन गया हो। पढ़े लिखे लोग भी इस कानून पर जोक्स सुनाते फिरते हैं। शायद प्रेम का सही मतलब चंद लोग ही जानते हैं।
Ravindra Kumar Agarwal
achhi kahani, aane wale waqt ke liye nayab hogi 👍
Rajeshwar Mamta Maravi
every one has right to live that how to spent our life time event. ...such a nice blog
Shivi Saxena
everyone has right to live. lovely story ma'am
Dr. Deepa agrawal
sab ko jine ka ,apni trh pyar krne ka adhikar h, jo jaisa h use vaise hi apnana chahiye....Nice story
Sudha Ramavat
To try and find a reasonable solution to some conditions is not so easy.The story is any way an eye opener.
Ranjan Sharma
बहुत ही रोचक कहानी . बहुत दिनों बाद एक अलग विषय पर एक दिलचस्प कहानी पढ़ने को मिली . थेंक्स प्रतिलिपि . इतना खुलापन केवल पश्चिमी समाज में ही हो सकता हैं . भारतीय समाज को इतना फासला तय करने में अभी शायद 50 वर्ष और लगें , बहरहाल इस कहानी का मूल लेखक कौन है ??
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.