और वो चली गयी (भाग-1)

पं कपिल गौड़ सहायक

और वो चली गयी (भाग-1)
(12)
पाठक संख्या − 2971
पढ़िए

सारांश

उम्र के 19 वे पड़ाव पर था | पता नही कब वो टायर चलाने वाला बचपन अब  मर्सडीज के ख्वाब बुनने मे व्यस्त हो गया । आज गली कूचों से निकलने वाला एक लड़का पूरे शहर को चलाने की इक्षा शक्ति से अलीगढ़ आया। उन ...
Santosh Kr Singh
सहायक जी आपका वह चली गई कहानी हम पढ़े अच्छा लगा ख्वाब बहुत ज्यादा आपने लिखा है ख्वाब के कारण कुछ अटपटा सा लगता है पढ़ने कृपया तरीके से लिखा करें जो सीधी सीधी समझ में आए धन्यवाद
Hemalata Godbole
ऐलगी।अच्छी
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.