'ऐयार' ए ट्रबलशूटर.... 1

डा० राजेश मिश्रा

'ऐयार' ए ट्रबलशूटर.... 1
(96)
पाठक संख्या − 8116
पढ़िए

सारांश

मार्डन फिलाॅसफर डिटेक्टिव पुराने चोले में, कामयाब होगा या नहीं....!
एकांत
शुरुआत के हिसाब से काफी बेहतर। कहानी का नरेशन काफी शानदार है, मानो किसी फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ रहा हूँ। पर वही कुछ जगहे नरेशन उतना साफ नही था। पहले मुझे रुचि संभव की बहन लगी फिर आगे एहसास हुआ की वह कोई ओर यह। यह एक-आद चीज़े यदि सुधार दी जाए तो कहानी मे एक और सितारा जुड़ जाएगा।
Ravindra saini
अगले भाग का इन्तजार रहेगा।।
रमेश तिवारी
अतिसुंदर प्रस्तुति।। कृपया स्नेह स्वरूप मेरी रचना श्रीदुर्गाचरितमानस पढ़ने का कष्ट करे समीक्षा की प्रतीक्षा जय माता दी सहृदय धन्यवाद
Padmini saini
बहोत ही अच्छा लिखा है पढने में बोरियत नही है बल्कि मजा आता है ।
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.