एक अधूरी कहानी

ओमांश

एक अधूरी कहानी
(71)
पाठक संख्या − 8696
पढ़िए

सारांश

इस कहानी में स्कूली दिनों की पृष्ठभूमि में शुरू होती एकतरफा प्रेम की मासूमियत, असमंजस और बेकरारी है। प्रेम और दोस्ती के सामंजस्य में उलझी यह कहानी एक ऐसे मोड़ पर पहुंचती है जहां इजहार और इकरार के बावजूद एक प्रेम कहानी अधूरी छूट जाती है, कैसे? इसी का ताना- बाना है ' एक अधूरी कहानी '...
Davinder Kumar
बहुत सुंदर रचना बधाई
Nisha Mirza
it's to gud
रिप्लाय
Indira Kumari
बढियां कहानी
रिप्लाय
Anuradha Pachwariya
heart touching story
रिप्लाय
m ali
दिल को छु गई
Shubham Singhai
nice end chodkar sab mere sath ho gaya hai
Anil Jaat (चौधरी अनिल जाट)
👍👍👍 vakt kahan ruka kabhi kisi ke liye sda #inshan hi ruka hai kisi ke liye a-khuda wo mile ya na mile uske name se #Dil ko tassalli jarur milti hai uska #Chehra dekhte hi Heart-beat to n jaane kyo #Tham si jaati hai #ANIL_Dalal
Madhuri Jha
बहुत अच्छी कहानी...
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.