ईदगाह

मुंशी प्रेमचंद

ईदगाह
(144)
पाठक संख्या − 13516
पढ़िए
Arti Saini
sach me school yaad aa gaya
गीतांजलि
छोटा बालक देता है लोभ को त्याग माँ की सेवा की सीख
Bhanu
शानदार कहानी ...बहुत मजा आया...
आमिर मलिक
मैंने जितनी भी कहानियां पढ़ी है, उनमें ये सबसे ज्यादा पसंद आया।👌👌
सनी झा
bachpan yaad aa gya school life sach mai kya din the wo
विनोद जोशी
अत्यंत सुन्दर ऐप्प
Kamlesh Sharma
Rona aa jata hai last me
Manju Singh
कितनी भी आयु हो जाए यह कहानी पढ़कर रोना आ ही जाता है।धन्य हैं प्रेमचंद ।
Garimella Muktikant
Badhiya kahaani. Premchand saahb amar rahein!
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.