आभासी रिश्ता

आशीष कुमार त्रिवेदी

आभासी रिश्ता
(117)
पाठक संख्या − 6486
पढ़िए

सारांश

सोशल मीडिया की आभासी दुनिया में कभी कभी ऐसे रिश्ते बन जाते हैं जो उस खालीपन को भर देते हैं जिसे आसपास के लोग समझ भी नहीं पाते। दो वरिष्ठ नागरिकों देवराज और शारदा के बीच दोस्ती के ऐसे ही रिश्ते की कहानी 'आभासी रिश्ता'
Niharika Besaria
Sach dosti anmol rishta hai....
रिप्लाय
Jagriti Godara
bahut he achhi kahani hai
रिप्लाय
sapna maloo
bhot achi story
रिप्लाय
Krishna Bhai
फेसबुक एक माध्यम है जिसे टाइम पास होता है बाकि सब मोह माया है।
रिप्लाय
Sarrita Surana
वर्तमान में अकेले रह रहे लोगों के लिए आभासी दुनिया समय व्यतीत करने का एक अच्छा माध्यम है। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप उसका प्रयोग कैसे और कितना करते हैं? अगर सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल किया जाए तो यह न केवल आपके ज्ञान में अभिवृद्धि करता है अपितु कई अन्य समस्याओं का समाधान भी प्रस्तुत करता है। समसामयिक विषय पर आधारित एक अच्छी कहानी लिखने हेतु लेखक को बधाई।
रिप्लाय
Anu Sharma
sir story is outstanding.I got emotional while reading the story.please read my stories and encourage me
रिप्लाय
Manoj Kumar Sanghai
दिल को छू लेने वाली कहानी,
रिप्लाय
Ashish Singh
ati sundar
रिप्लाय
Nirmal Bhanwrela
nice
रिप्लाय
priyadarshini chopra
nice
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.