आभासी रिश्ता

आशीष कुमार त्रिवेदी

आभासी रिश्ता
(135)
पाठक संख्या − 6771
पढ़िए

सारांश

सोशल मीडिया की आभासी दुनिया में कभी कभी ऐसे रिश्ते बन जाते हैं जो उस खालीपन को भर देते हैं जिसे आसपास के लोग समझ भी नहीं पाते। दो वरिष्ठ नागरिकों देवराज और शारदा के बीच दोस्ती के ऐसे ही रिश्ते की कहानी 'आभासी रिश्ता'
Anjali Meena
बहुत ही अच्छी कहानी 👌👌
रिप्लाय
Ajit
wah Aashish Kumar ji, bahut khoob
रिप्लाय
Davinder Kumar
Dil ko chhu lane wali kahani
रिप्लाय
पिंकी राजपूत
बेहद मार्मिक!! आभासी रिश्ते का ये सकारात्मक पक्ष है., मर्यादित रूप से एक साल तक ये रिश्ता कायम रहा.... ऐसे भी निभाये जाते हैं रिश्ते.......... 😢
रिप्लाय
Adda Madhuri
nice
रिप्लाय
Anand Nema
कहानी भावनात्मक है कभी कभी ऐसे भी रिश्ते जुड़ जाते हैं.
रिप्लाय
द्विवेदी वंदना
aabhasi duniya ki vastvik bhavnaye...bhavnao ki behtreen abhivaykti...
रिप्लाय
Niharika Besaria
Sach dosti anmol rishta hai....
रिप्लाय
Jagriti Godara
bahut he achhi kahani hai
रिप्लाय
sapna maloo
bhot achi story
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.