आदिमराग

राहुल देव

आदिमराग
(6)
पाठक संख्या − 284
पढ़िए

सारांश

बहरों ने कुछ सुना नहीं अंधों ने कुछ देखा नहीं फिर भी, युगों पहले सुना गया था जिसे गुफाओं में रचा गया था जिसे भयंकर शोर-शराबे, लूटपाट और मार-काट के बीच भी गुमनाम कवियों के द्वारा चुपचाप गाया जाता रहा ...
Satyendra Kumar Upadhyay
"दरमियां " जैसे शब्द राष्ट्र भाषा ज्ञान को दर्शाते हैं । अत्यंत सारहीन व अप्रासांगिक है ।
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.