आखिर क्यों?

Shobhna Goyal

आखिर क्यों?
(26)
पाठक संख्या − 127
पढ़िए

सारांश

नारी का मान क्यों गिरता जा रहा है?
Dharm Pal Singh Rawat
बहुत सुंदर।
Sadaf Sania
ह्रदय को छू जाने वाली रचना है 👌👌👌
रिप्लाय
मनु
जी सही कहा एकदम बहुत सुंदर
रिप्लाय
Chourasiya brajesh
यथार्थ रचना
रिप्लाय
Rajni Braj gopal
बहुत खूब
रिप्लाय
Sudhir Kumar Sharma
अद्भुत
रिप्लाय
sushma gupta
बेहतरीन रचना 👌 ( मैने आपको एक मैसेज भेजा है, कृपया पढ़ें 🙂🙏 )
रिप्लाय
Rajesh Gaur
बिलकुल सही likha hai मेम आपने सत सत नमन🌹🙏
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.