असली हीरे

तारकेश कुमार ओझा

असली हीरे
(36)
पाठक संख्या − 5026
पढ़िए

सारांश

व्यंग्य से लेकर कहानी और ब्लॉग के तौर पर सम - सामयिक विषयों पर निरंतर लेखन कर रहे तारकेश कुमार ओझा पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में रहते हैं और हिंदी दैनिक जागरण में वरिष्ठ उपसंपादक पद पर कार्यरत हैं। ब्लॉग लेखन के साथ ही पत्रकारिता के लिए उन्हें अनेक पुरस्कार मिल चुके हैं। उनसे संपर्क इस पते पर किया जा सकता है। पताः भगवानपुर, जनता विद्यालय के पास वार्ड नंबरः09 (नया) खड़गपुर ( प शिचम बंगाल) पिन ः721301 जिला प शिचम मेदिनीपुर मोबाइलः 09434453934 ( whatsapp) 09635221463 ई.मेल tarkeshkumarojha@gmail.com
Archana Varshney
बहुत बढ़िया
Navin Rathod
अत्ती सुंदर
ShrUti DubEy
ऐसा ही होता है, जब कोई खास लगता है तब वह पास नही होता और पास होता है तो खास नही समझते उन्हें। अति सुंदर रचना ❤️
Chandra Tiwari
aise hi hote hain bankers
प्रज्ञा
Thank you.. banker ko achha batane ke ly
रिप्लाय
Swati Rajput
अब लोगों को भौतिक हीरे ज्यादा पसंद आते हैं।
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.