अभिमान

अज्ञात

अभिमान
(16)
पाठक संख्या − 7706
पढ़िए

सारांश

विदा अपने पति के साथ एक छोटे से गाँव में रहती थी | वह चतुर और गुणवान थी लेकिन इस बात का उसे जरा सा भी घमंड नहीं था | विदा का पति अनाज की बोरियों को व्यापार करता था | एक रात पति पत्नी अपने कामो उलझे ...
Santokh Singh
सबको बराबर सम्मान देना चाहिए
Gagan Shrivastav
👍👍👍 बहुत बडीया....✌✌
दिलीप गिरि
ना ही पढ़े तो बेहतर है
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.