अब बस# ओवुमनिया

Pinky Khurana

अब बस#  ओवुमनिया
(9)
पाठक संख्या − 136
पढ़िए

सारांश

मानसिक रोगी से ग्रस्त पति से छुटकारा पाने के लिए बच्ची को गोद लेने का निर्णय
Neena Sharma
Anjali Ne Sahi Kadam uthaya bahut acchi kahani
रिप्लाय
Dipak kumar
पारस्परिक समझ पर लिखी गई कहानी है।हमें किसी को भी जान परख कर ही उससे रिश्ता जोड़ना चाहिए।कहानी अच्छी सीख दे रही है। कहानी को लय बनाकर लिखे ज्यादा आकर्षक होगी और इस कहानी का अंत थोड़ा और अच्छा होना चाहिए था। अच्छी कहानी है
रिप्लाय
bamdev tripathi
वाह क्या खूब लिखा है
रिप्लाय
Mili Popli
Bahut badia likha he it always happens in our society women can't live their life as they want
Sajal Manocha
very interesting story..love the way writer writes
swapnila manocha
बहुत अच्छा लिखा हैं...काबिले तारीफ़!!
रिप्लाय
Sunil Khurana
Very nice story
रिप्लाय
Ritu Bawa
बहुत ही अच्छी कहानी,सचमुच माताएँ अक्सर दुनिया का डर दिखा कर लड़कियों को बचपन से डरपोक बना देती है।
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.