अपने हुए पराए

Artee priyadarshini

अपने हुए पराए
(81)
पाठक संख्या − 16488
पढ़िए

सारांश

अपनो के बीच पराएपन का एहसास करता व्यक्ति
बलवीर सिंह
जयदाद के सामने सब का प्यार फीका है वेश्या के कोठे तो सिर्फ बदनाम है वो जिस्म ही बेचती है पर हमारे अपने रिश्ते नाते जमीर भी बेच देते है
रिप्लाय
Pooja mittal
bhut kdva Magar saty
रिप्लाय
Prince Jain
ये जिंदगी की सच्चाई है
रिप्लाय
Neha Kulshreshtha
समाज का कटु सत्य यही हाल होता है फर्ज निभाने वाले लोगो का।
रिप्लाय
Neeta trivedi
सम सामयिक कथा..... कुछ लोग ल ही सीख पाते हैं द नहीं।
रिप्लाय
Mamata Tiwari
love n faith is always right but over or blind love is very harmful
रिप्लाय
Anu Singhal
Reality of life
रिप्लाय
Vanita Sharma
log yese hi hote h
रिप्लाय
Sukhpal Randhawa
Today's selfish relationship
रिप्लाय
aparna
nice story ma'am 😊👍👍
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.