अपनी ज़मीन

डॉ. बीना राघव

अपनी ज़मीन
(38)
पाठक संख्या − 3526
पढ़िए

सारांश

लड़की अगर हिम्मत दिखाती है और कुछ ख़ास करती है तो भी उसे पुरुषों से तुलित कर देखते है -'हाँ भई इसने मर्दों जैसा काम किया' जबकि वह तो केवल अपनी जमीं तलाश रही होती है ....
Om Vada
अति सुन्दर प्रस्तुति
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.