अपनी ज़मीन

डॉ. बीना राघव

अपनी ज़मीन
(57)
पाठक संख्या − 4585
पढ़िए

सारांश

लड़की अगर हिम्मत दिखाती है और कुछ ख़ास करती है तो भी उसे पुरुषों से तुलित कर देखते है -'हाँ भई इसने मर्दों जैसा काम किया' जबकि वह तो केवल अपनी जमीं तलाश रही होती है ....
Rachana Wadekar
Garv hua padkar thanks
shubham joshi
bahut hi umda aur behtareen.. aaise hi likhti rahiye maim.. best wishes for you..
रिप्लाय
nidhi Bansal
bht sunder.
रिप्लाय
Meena Bhatt.
beautiful story
रिप्लाय
Pj Pooja
Superb
रिप्लाय
Om Vada
अति सुन्दर प्रस्तुति
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.